Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

मानसून सत्र से पहले हुई सर्वदलीय बैठक, ज्यादा स्टाफ ना लाने पर दिया जोर

सीएम जयराम ठाकुर से मिलने आने वालों की होगी स्कैनिंग

मानसून सत्र से पहले हुई सर्वदलीय बैठक, ज्यादा स्टाफ ना लाने पर दिया जोर

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश विधानसभा (Himachal Vidhan Sabha) का मानसून सत्र (Monsoon Session) सोमवार से शुरू होने जा रहा है। इसके लिए आज तैयारियां की जा रही है। सदन को सुचारू रूप से चलाने के लिए विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार सर्वदलीय बैठक (All-Party Meeting ) बुलाई। इस बैठक में विधानसभा अध्यक्ष के अलावा संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Mukesh Agnihotri) और माकपा विधायक राकेश सिंघा, मुख्य सचेतक बिक्रम जरियाल और उप सचेतक कमलेश कुमारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें: हाईकोर्ट ने गुणवत्ताहीन अवमानना याचिका 25 हजार रुपए कॉस्ट सहित खारिज की

विपक्ष के चीफ व डिप्टी व्हिप को भी मिले सम्मान

सर्वदलीय बैठक के बाद नेता प्रतिपक्ष ने मीडिया से बातची के दौरान कहा कि सदन के पहले दिन सदन के दिवंगत सदस्यों को याद किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से सर्वदलीय बैठक में सरकार अपने चीफ व डिप्टी व्हिप को शामिल करती है। उसी तरह से प्रमुख विपक्षी पार्टी के चीफ व डिप्टी व्हिप को भी बैठक में शामिल किया जाना चाहिए और उन्हें भी वहीं सम्मान मिलना चाहिए। उन्होंने कहा सरकार कोरोना के जान गंवाने वालों के आंकड़ों को भी छिपा रही है। इसके अलावा पोस्ट कोविड से जान गंवाने वालों को कोविड से हुई मौत का समान दर्ज दिया जाना चाहिए क्योंकि इन लोगों को कभी ना कभी मुआवजा मिलेगा है। इस संबंध में सर्वोच्च न्यायालय ने भी आदेश दिए हैं। इसके अलावा बहुत सारे मुद्दे हैं जिनपर सरकार को सदन में जवाब देना है।

कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती का होगा पालन

मानसून सत्र को लेकर विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार (Vipin Singh Parmar) ने कोरोना को लेकर आगाह किया। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल बेहद ज़रूरी है। सभी को इसका सख्ती से पालन करना होगा। विधानसभा अध्यक्ष ने सभी मंत्रियों व विधायकों से अपील की है वे अपने साथ ज्यादा स्टाफ और लोग न लाएं। अध्यक्ष ने कहा कि सत्र के दौरान सीएम से मिलने आने वालों को स्कैन किया जाएगा। सभी प्रवेश द्वारों पर थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था होगी। किसी भी तरह के लक्षण आने पर स्वास्थ्य संबंधी सभी सुविधाएं रहेंगी।आगंतुकों के लिए भी पूरी तरह सैनिटाइजेशन की व्यवस्था रहेगी।

1200 नहीं 800 कर्मचारी देंगे सेवाएं

परमार ने कहा कि विधानसभा सचिवालय में सेवाएं देने वाले कर्मचारियों की संख्या भी 1200 से घटाकर 800 तक कर दी है।सुरक्षा के लिहाज़ से पुलिस कर्मियों के अलावा ड्रोन से भी नजर रहेगी । हेड काउंट मशीन भी काम करेगी। अभी तक करीब 900 सवाल सचिवालय को मिले है। नियम 130 के तहत सवाल और चर्चा भी प्राप्त हुए है । स्पीकर ने कहा सर्वदलीय बैठक के ज़रिए सदन में सार्थक चर्चा और बेहतर प्रबंध के लिए चर्चा हुई । विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि नियमों की पालना को लेकर सभी सदस्यों को इसी परिधि के तहत सदन के बहुमूल्य समय के सदुपयोग की भी उन्होंने सदस्यों से अपील की है। सत्र के पहले दिन दिवंगत सदस्यों को श्रद्धांजलि दी जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है