Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

फतेहपुर उपचुनावः वन मंत्री के सामने मंच से लगाई गुहार- पठानकोट वाले को नहीं, लोकल को दो टिकट

कार्यक्रम से नदारद रहे पूर्व प्रत्याशी व टिकट के दावेदार कृपाल परमार

फतेहपुर उपचुनावः वन मंत्री के सामने मंच से लगाई गुहार- पठानकोट वाले को नहीं, लोकल को दो टिकट

- Advertisement -

फतेहपुर। हिमाचल प्रदेश में होने वाले उपचुनावों को लेकर राजनीति गर्मा चुकी है। हालांकि उपचावों की घोषणा तो नहीं हुई है इसलिए अभी तक कांग्रेस व बीजेपी किन उम्मीदवारों को मैदान में उतारेगी इसके बारे में अभी कुछ तय नहीं हो पाया है। लेकिन बीजेपी व कांग्रेस दोनों पार्टियों के नेता प्रदेश में होने वाले तीन विधानसभा व एक लोकसभा सीट को जीतने के लिए रणनीति बना चुके हैं। बात फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र की करें तो बीजेपी व कांग्रेस अभी तक दोनों की पार्टियों ने यह तय नहीं किया है चुनावी मैदान में किस को उतारा जाए। लेकिन टिकट के दावेदार दोनों पार्टियों में जो सरेआम एक दूसरे का विरोध कर रहे हैं। आज फतेहपुर विधानसभा के मिन्ता पंचायत में वन मंत्री राकेश पठानिया के कार्यक्रम के दौरान मंच से स्थानीय पंचायत प्रधान सुशील कुमार ने खुलेआम वन मंत्री से प्रार्थना कर डाली कि इस बार पठानकोट वाले को नहीं बल्कि स्थानीय टिकट के दावेदारों में से एक को टिकट दिया जाए। उन्होंने नाम लिए बिना बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष कृपाल परमार पर सीधे- सीधे हमला बोला, हैरानी इस बात की है कि यह सब सुन कर मंत्री महोदय बेखबर बने रहे। चर्चा इस बात को लेकर अधिक रही कि इस कार्यक्रम फतेहपुर बीजेपी मंडल ,संगठन के साथ-साथ प्रदेश उपाध्यक्ष कृपाल परमार नहीं पंहुचे थे। इस कार्यक्रम में फतेहपुर बीजेपी में बगावत साफ-साफ नजर आई। ज्ञात रहे कि बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष कृपाल परमार को पठानकोट का नाम दिया गया है, इस नाम पर उनका विरोध भी होता रहता है।


 

पहले के कार्यक्रमों में शामिल हुए कृपाल परमार

फतेहपुर में हाल ही में पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर व उसके बाद प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री राजीव सहजल भी पहुंचे थे। फतेहपुर बीजेपी मंडल की अध्यक्षता में उनके कार्यक्रमों का आयोजन हुआ, जिसमें कृपाल परमार सहित फतेहपुर बीजेपी मंडल व अन्य बीजेपी संगठन मौजूद रहे थे। इस दौरान फतेहपुर को कई सौगाते भी मिली । मगर आज वन मंत्री राकेश पठनिया के नूरपुर विस क्षेत्र के साथ लगती फतेहपुर की मिन्ता पंचायत में कृपाल परमार विरोधी धडे़ की अध्यक्षता हुए इस कार्यक्रम ने फतेहपुर में चल रही बीजेपी की बगावत की आग की चिंगारी में घी डालने का काम किया है।

 

सभी ने दी अपनी -अपनी सफाई

फतेहपुर बीजेपी मंडल अध्यक्ष करतार सिंह का कहना है कि मंडल को ना तो कार्यक्रम की सूचना थी और न ही कार्यक्रम में बुलाने की जानकरी मिली थी। वहीं बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष एवं फतेहपुर से पार्टी के के पूर्व उम्मीदवार कृपाल परमार का कहना है कि उन्हें कार्यक्रम की सूचना मिली थी मगर उनके कार्यक्रम पहले ही तय थे । कुछ समय पहले सूचना मिली थी तो इस अचानक रखें कार्यक्रम में उनका पहुंचना मुश्किल था। वहीं वन मंत्री राकेश पठानिया नॆ इस पर सफाई देते हुए कहा कि कृपाल परमार किसी कार्य से बाहर थे। इसलिए कार्यक्रम में आ नहीं सके ,जबकि बीजेपी मंडल के ना आने पर मंत्री महोदय ने कन्नी काट ली । वन मंत्री ने पठानकोट का नाम लेकर उन्होंने परमार को नहीं बल्कि सत महाजन को बोला था। फतेहपुर उपचुनाव में बीजेपी की जीत होगी।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है