Covid-19 Update

2,18,523
मामले (हिमाचल)
2,13,124
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,697,581
मामले (भारत)
233,205,019
मामले (दुनिया)

नीति आयोग की बैठक में #jairamthakur ने PM Modi से क्या मांगा- जानिए

मंडी और कांगड़ा हवाई अड्डे के लिए पर्याप्त आर्थिक सहायता स्वीकृति का आग्रह

नीति आयोग की बैठक में #jairamthakur ने PM Modi से क्या मांगा- जानिए

- Advertisement -

शिमला। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज नई दिल्ली में नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की छठी बैठक (NITI Aayog Meeting) की अध्यक्षता की। बैठक का आयोजन वर्चुअल माध्यम से किया गया, जिसमें कृषि, अधोसंरचना, विनिर्माण और मानव संसाधन विकास के मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की गई। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Union Defense Minister Rajnath Singh) ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया।

यह भी पढ़ें: Himachal के लोगों को महंगे पेट्रोल और डीजल से मिलेगी राहत, क्या बोले जयराम-जानिए

शिमला से इस बैठक में शामिल होते हुए सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने कहा कि पहाड़ी राज्य होने के कारण हिमाचल प्रदेश में अधोसंरचना सृजित करने के लिए अन्य राज्यों की अपेक्षा अधिक धनराशि और संसाधनों की आवश्यकता है। राज्य सरकार हिमाचल को देश का पर्यटन केंद्र बनाने के लिए भरसक प्रयास कर रही है, लेकिन बेहतर हवाई और रेल संपर्क नहीं होने के कारण इसमें समस्याएं आ रही हैं। उन्होंने पीएम से आग्रह किया कि मंडी में ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के निर्माण और कांगड़ा हवाई अड्डे (Kangra Airport) के विस्तार के लिए पर्याप्त आर्थिक सहायता स्वीकृत की जाए। इससे जहां पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा, वहीं यह सामरिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है।

 

 

रोहतांग टनल से रोजाना गुजर रहे पांच हजार वाहन

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार अधोसंरचना विकास को शीर्ष प्राथमिकता प्रदान कर रही है। अटल टनल रोहतांग (Atal Tunnel Rohtang) का निर्माण रिकॉर्ड समय में पूरा करने और इस कार्य में व्यक्तिगत रूचि लेने के लिए उन्होंने पीएम का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इस सुरंग के बनने से लाहुल और पांगी (Pangi) घाटी में लोगों की आजीविका में काफी सुधार हुआ है, क्योंकि हजारों की संख्या में पर्यटक यहां पहुंच रहे हैं। रोहतांग टनल से प्रतिदिन लगभग पांच हजार वाहन गुजर रहे हैं। केलांग घाटी में पिछले महीने से स्नो फेस्टिवल (Snow Festival) का आयोजन किया जा रहा है जिसे देखने के लिए हर क्षेत्र से लोग पहुंच रहे हैं, जो इस सुरंग के निर्माण के बिना संभव नहीं हो पाता।

यह भी पढ़ें: Himachal : जयराम कैबिनेट बैठक 23 फरवरी को होगी, इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश का बद्दी क्षेत्र एशिया का सबसे बड़ा फार्मा हब बनकर उभरा है। राज्य में बल्क ड्रग फार्मा पार्क के लिए प्रभावी रूप से कार्य करना आरंभ किया है। इसके अतिरिक्त, राज्य में मेडिकल डिवाइस मैन्युफैक्चरिंग पार्क (Medical Device Manufacturing Park) और इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग हब के लिए भी प्रयास जारी हैं। उन्होंने पीएम से आग्रह किया कि प्रदेश के लिए इन सभी पार्क को स्वीकृत किया जाए, ताकि यहां आर्थिक स्थिति में व्यापक परिवर्तन लाया जा सके।

 

तीन जिलों में नल से जल का लक्ष्य सौ फीसदी हासिल

उन्होंने कहा कि हिमाचल ने 25 जनवरी, 2021 को पूर्ण राज्यत्व के 50 वर्ष पूरे कर लिए हैं और राज्य सरकार ने इस वर्ष को स्वर्ण जयंती के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि छोटा राज्य होने के बावजूद हिमाचल (Himachal) में देश के कई बड़े राज्यों को राह दिखाई है। राज्य ने जल जीवन मिशन के कार्यान्वयन में बेहतरीन प्रदर्शन किया है और यह देश का पहला राज्य बना है, जिसे मिशन के अंतर्गत चार ट्रैंच प्राप्त हुए हैं। इसके अतिरिक्त, प्रदेश के तीन जिलों में नल से जल उपलब्ध करवाने का शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया गया है, जबकि वर्ष 2021-22 में तीन और राज्यों के सभी घरों को जल उपलब्ध करवाने का लक्ष्य रखा गया है।

यह भी पढ़ें: #jairam का वार-दिशाहीन, नेताविहीन और मुद्दाहीन विपक्ष, अपनों को भी नहीं छोड़ा

 

 

जय राम ठाकुर ने कहा कि पीएम की प्राथमिकता के अनुरूप प्रदेश में सुभाष पालेकर प्राकृतिक खेती योजना कार्यान्वित की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत एक लाख से अधिक किसानों को लाभान्वित किया जा चुका है, जिससे उनकी आमदनी में वृद्धि में सहायता मिली है। इस प्रणाली के आधार पर प्रदेश के नौ हजार से अधिक सेब उत्पादकों ने 155 बीघा भूमि पर सेब उत्पादन आरंभ किया है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है