हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2017

BJP

44

INC

21

अन्य

3

हिमाचल प्रदेश चुनाव परिणाम 2022 लाइव

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

पहचान को मोहताज नहीं धर्मशाला, कांग्रेस-बीजेपी बराबरी पर छूटती रही है

बीजेपी के कब्जे वाली सीट पर होगा इस मर्तबा कड़ा इम्तिहान

पहचान को मोहताज नहीं धर्मशाला, कांग्रेस-बीजेपी बराबरी पर छूटती रही है

- Advertisement -

स्मार्ट सिटी (Smart City) के नाम से धर्मशाला को एक नई पहचान मिली है। यूं तो क्रिकेट स्टेडियम (Cricket Stadium) ने इस शहर को विश्व भर में एक अलग पहचान दिलाई है,साथ ही तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा (Tibetan religious leader Dalai Lama) के नाम से भी ये जगह मशहूर रही है। यही नहीं धर्मशाला की स्लेट भी बेहद मशहूर रही है। धर्मशाला में ही प्रदेश की दूसरी विधानसभा भी है। इन सबके चलते जिला कांगड़ा के मुख्यालय की धर्मशाला विधानसभा सीट हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की काफी महत्वपूर्ण सीट है। इस सीट पर बीजेपी और कांग्रेस दोनों दलों के उम्मीदवारों को जीत मिलती रही है। वर्तमान में यह सीट बीजेपी के पास है। वर्ष 2017 में यहां विधानसभा के चुनाव हुए थे, इसमें कुल 74, 863 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया था, जिनमें 36, 320 पुरुष और 36,543 महिलाओं ने वोट दिया था।

यह भी पढ़ें- कांग्रेस के दबदबे वाली पालमपुर सीट पर बीजेपी की है टेढ़ी निगाहें

वर्ष 2017 के चुनाव में कुल 12 प्रत्याशियों में इस सीट से मुकाबला हुआ था, जिसमें बीजेपी के किशन कपूर (Kishan Kapoor) को 26,050 और (Congress Sudhir Sharma) कांग्रेस के सुधीर शर्मा को 23,053 वोट मिले थे। ऐसे में 2, 997 वोटों की बढ़त के साथ किशन कूपर ने इस सीट से जीत दर्ज की थी। हालांकि, किशन कपूर बाद में सांसद का चुनाव लड़े और यहां से सांसद बन गए। ऐसे में उपचुनाव के दौरान इस सीट से बीजेपी के विशाल नेहरिया (Vishal Nehria of BJP) ने जीत हासिल की और वह (MLA of Dharamsala) धर्मशाला के विधायक बने। धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र (Dharamshala assembly constituency) में मतदाताओं की बात करें, तो यहां कुल 80,309 वोटर्स हैं, जिनमें 40,314 पुरुष और 39,995 महिलाएं शामिल हैं। धर्मशाला सीट पर कुल 84 पोलिंग बूथ हैं, जिनमें से 2 अति संवेदनशील और 70 सामान्य पोलिंग बूथ हैं।

यहां बात अगर जनता के अहम मुद्दे की करें, तो हर चुनाव में धर्मशाला में पार्किंग (Parking in Dharamshala) की समस्या हमेशा से रहती है। वहीं, धर्मशाला की डंपिंग साइट को शिफ्ट करने की भी लंबे समय से मांग उठाई गई है। इसके साथ ही यहां की सड़कें काफी संकरी हैं, जिसके कारण लोगों को हमेशा ट्रैफिक जाम का सामना करना पड़ता है। अबकी मर्तबा धर्मशाला में ऊंट किस करवट बैठता है,देखने वाली बात होगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है