Covid-19 Update

2,22,890
मामले (हिमाचल)
2,17,495
मरीज ठीक हुए
3,721
मौत
34,200,957
मामले (भारत)
244,634,716
मामले (दुनिया)

राष्ट्रपति कोविंद बोलेः कोरोना के खिलाफ चैंपियन बना हिमाचल, विकास में भी बने सिरमौर

हिमाचल के विकास के योगदान देने वालों को आभार

राष्ट्रपति कोविंद बोलेः कोरोना के खिलाफ चैंपियन बना हिमाचल, विकास में भी बने सिरमौर

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व दिवस के स्वर्णिम वर्ष के उपलक्ष्य पर हिमाचल विधानसभा के विशेष सत्र( Special session of Himachal Vidhan Sabha) का आयोजन किया गया। इस विशेष सत्र को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ( President Ram Nath Kovind) ने संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि हिमाचल ने शत-प्रतिशत आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ( first dose of corona vaccine) लगा कर एक कीर्तिमान स्थापित किया है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हिमाचल चैंपियन बनकर सामने आया है। राष्ट्रपति ने सदन में आह्वान किया कि एक दिन हिमाचल देश का सिरमौर बने। केंद्र और राज्य सरकार बादल फटने की घटनाओं के लिए वैज्ञानिक समाधान विकसित करे। हिमाचल प्रदेश में आकर मुझे ऊर्जा मिलती है और 1974 में पहली बार कुल्लू मनाली आया और उसके बाद से लगातार आ रहा हूं। स्वर्ण जयंती के उपलक्ष पर प्रदेश वासियों सहित प्रदेश को विकास की दिशा में अग्रसर करने वालों को बधाई दी।

 

राष्ट्रपति ने इस दौरान पहाड़ी गांधी कांशी राम के अलावा, देश के पहले वोटर कल्पा के श्याम शरण नेगी को भी याद किया। साथ ही जिस भी शख्स ने हिमाचल के विकास के योगदान दिया, सबका आभार किया। राष्ट्रपति ने कहा कि हिमाचल वीरभूमि है और यहां 1 लाख 20 हजार पूर्व सैनिक हैं। उन्होंने कारगिल हीरो विक्रम बतरा, सौरव कालिया समेत कई वीर सैनिकों को याद किया। इससे पहले, विधानसभा के स्पीकर विपिन सिंह परमार ने महामहिम का धन्यवाद किया। इस दौरान उन्होंने रामनाथ कोविंद का शिमला आने पर आभार जताया। साथ ही हिमाचल विधानसभा के इतिहास के बारे में जानकारी दी। स्पीकर ने अपने स्वागत भाषण में हिमाचल के विकास में योगदान देने के लिए पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह,ठाकुर रामलाल ठाकुर, प्रेम कुमार धूमल के अलावा, जयराम ठाकुर का आभार जताया।

स्पीकर के बाद नेता मुकेश अग्निहोत्री ने राष्ट्रपति का यहां शिमला पहुंचने पर आभार जताया गया। उन्होंने बताया कि हिमाचल विधानसभा के भवन में ही देश की महिलाओं को मताधिकार देने का प्रस्ताव पारित हुआ था। इस दौरान उन्होंने हिमाचल के स्वर्णिम सफर का बखान किया और प्रदेश के निर्माण की जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने हिमाचल रजिमेंट के गठन की भी राष्ट्रपति से मांग की। साथ ही कहा कि हिमाचल में एयर सेवाओं और रेललाइन सेवा का भी विस्तार मुद्दा रखा। सत्र के दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने भी सत्र को संबोधित किया और हिमाचल के पिछले पचास साल के सफर का जिक्र किया। साथ सदन में यह जानकारी दी कि कैसे हिमाचल में विकास का यह सफर तय किया। सीएम ने पूर्व पीएम अटल बिहारी बाजपेई को भी याद किया था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है