Covid-19 Update

1,99,252
मामले (हिमाचल)
1,92,229
मरीज ठीक हुए
3,395
मौत
29,633,105
मामले (भारत)
177,469,183
मामले (दुनिया)
×

क्या रहेगा खुला और क्या बंद, जानिए डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति की जुबानी

शनिवार और रविवार को बाजारों को लेकर पहले की तरह रहेगी व्यवस्था

क्या रहेगा खुला और क्या बंद, जानिए डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति की जुबानी

- Advertisement -

धर्मशाला। हिमाचल (Himachal) में कल सुबह सात बजे से 17 मई सुबह सात बजे तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा। इसमें कुछ पाबंदियां रहेंगी। सरकारी, निजी ऑफिस व संस्थान बंद रहेंगे। बाजार, जिम, स्विमिंग पूल, माल, सिनेमा हॉल, थियेटर आदि बंद रहेंगे। साथ ही शराब के ठेके, आहते व बार के साथ सैलून व बार्बर शॉप्स (Barber Shops) भी बंद रहेंगी। राशन की दुकानें पीडीएस सहित चाहे वह नेबरहूड में हो, रोड साइड हो या फिर स्ट्रीट कॉर्नर (Street Corner) पर हों। फूड, किराना, फल, सब्जी, डेयरी, दूध उत्पाद, मीट, फिश, पशु आहार, खाद्य व कीटनाशक आदि की दुकानें सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक खुली रहेंगी। वहीं, शनिवार और रविवार को दुकानें खोलने के लिए जारी आदेश पहले की तरह रहेंगे। यानी शनिवार और रविवार को फल, सब्जी, दूध व दूध उत्पाद की दुकानें ही खुली रहेंगी।  स्वास्थ्य, बिजली, दूरसंचार, जलापूर्ति, स्वच्छता आदि सभी जरूरी सेवाएं इस दौरान जारी रहेंगी। इसके अलावा अस्पताल, नर्सिंग होम, क्लीनिक, टेली मेडिसिन, दवा दुकानें, मेडिकल लैब, पशु औषधालय, फार्मा उद्योग, कृषि विक्रय केंद्र, खाद तथा कीटनाशक दवाइयों की दुकानें भी खुले रहेंगे। इसके अतिरिक्त पोस्ट ऑफिस, बैंक शाखाएं, एटीएम, नॉन बैंकिंग वित्तीय संस्थान न्यूनतम स्टाफ के साथ खुलेंगे।

यह भी पढ़ें: कैबिनेटः हिमाचल में 16 मई तक कोरोना कर्फ्यू, बंद रहेंगे ऑफिस-10वीं की परीक्षा रद्द

पांच और इससे ज्यादा लोग हुए इकट्ठे तो होगी कार्रवाई

कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) के नए आदेशों के बारे जानकारी देते हुए डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति (DC Kangra Rakesh Prajapati) ने बताया कि सरकार ने 7 मई सुबह 6 बजे से 17 मई सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाया है। कहीं भी पांच और इससे से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकते हैं। अगर ऐसा हुआ तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं, शादियां के लिए जो अनुमति ली गई, उसके अनुसार बीस लोगों के साथ ही शादी निपटानी होगी। हेल्थ संस्थान कार्य करते रहेंगे। इनमें काम करने वाला स्टाफ भी कार्य करता रहेगा। वहीं, बैंक सुबह 10 बजे से दो बजे तक खुलें रहेंगे। पोस्ट सर्विस, इंश्योरेंस, सैनिटाइजेशन कार्य, पेट्रोल पंप (Petrol Pump) भी खुले रहेंगे। कृषि, बागवानी के काम जारी रहेंगे। पब्लिक व प्राइवेट काम भी जारी रहेंगे। लेकिन, मौजूदा सामग्री के साथ ही कार्य करना होगा। इसके लिए निर्माण कार्य से संबंधित दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इस  दौरान वैक्सीनेशन कार्य चलता रहेगा। लोग मोबाइल पर आए मैसेज को दिखाकर वैक्सीनेशन केंद्र जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि पेट्रोल-डीजल, केरोसिन, एलपीजी की सप्लाई इस दौरान जारी रहेगी जबकि होटल, ढाबे पर्यटन विभाग की एसओपी के अनुसार खुलेंगे जबकि सभी तरह के मालवाहक वाहनों का परिवहन जारी रहेगा।


यह भी पढ़ें: Breaking:कोरोना Curfew से पहले हिमाचल के इस शहर में पुलिस का Flag March -देखें Video रपट

 

 

गलत पता देने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

डिफेंस, पुलिस (Police), होमगार्ड, जिला प्रशासन, ट्रेजरी व वन विभाग को छोड़कर सभी ऑफिस बंद रहेंगे। फिल्ड में चले पीडब्ल्यूडी के काम जारी रहेंगे। उन्होंने कहा कि इंटरस्टेट मूवमेंट (Inter state movement) को लेकर पिछले ऑर्डर ही जारी रहेंगे। बाहर से आने वाले लोगों को 72 घंटे की आरटीपीसीआर रिपोर्ट लानी होगी। अगर वह बिना रिपोर्ट आते हैं तो उन्हें होम आइसोलेट किया जाएगा और सातवें दिन उनके सैंपल लिए जाएंगे। ई-पास सिस्टम बरकरार है। बॉर्डर पर ई पास पर दिए पते की वेरिफिकेशन की जाएगी। अगर कोई गलत जानकारी दिए पाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा गाड़ियों की वर्कशॉप भी खुलीं रहेंगी।

यह भी पढ़ें: Corona Curfew: बंद रहेंगे ठेके, बार- आदेश जारी, और क्या-क्या पाबंदियां-जाने

 

अधिक जानकारी के लिए यहां करें क्लिक … Corona Curfew

बिना कारण बाहर निकले तो होगी कार्रवाई

होटल पहले की एसओपी के तहत खुलें रहेंगे। उन्होंने कहा कि पब्लिक और लोकल ट्रांसपोर्ट (Local Transport) पचास फीसदी क्षमता के साथ चलती रहेगी। टैक्सियां भी चलती रहेंगी। अंतरराज्यीय परिवहन सेवा भी जारी  रहेगी। मूवमेंट के लिए किसी भी तरह के पास की जरूरत नहीं है, लेकिन बिना कारण बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। कल से जिला में नाकांबदी शुरू हो जाएगी। आने जाने वालों को घर से निकलने का कारण बताना होगा। अगर कोई बिना कारण निकला पाया गया तो कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि जब जरूरत ना हो तो घर से बाहर ना निकलें। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में और पाबंदियों की जरूरत हुई तो की जाएंगी। शादियों पर विशेष नजर रहेगी। उन्होंने लोगों से भी आह्वान किया कि नियमों के अनुसार ही शादियां निपटाएं। भीड़ इकट्ठी ना करें। नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ एफआईआर (FIR) भी हो रही है और चालान भी किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांगड़ा में हुई 90 फीसदी मौतों में व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री शादियों की रही है।

 

Mistake

 

एंबुलेंस व डेथ वेन की संख्या में की जा रही बढ़ोतरी

डीसी राकेश प्रजापित ने बताया कि जिला में एंबुलेंस (Ambulances) व डेथ वेन की संख्या बढ़ाई गई है। सब डिवीजन स्तर पर एक से दो तक बढ़ाई है। हर रोज बेड क्षमता को बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन के पास वेंटिलेटर व आईसीयू (ICU) सीमित हैं, ऐसे में लोगों को पूरी सावधानी बरतनी चाहिए। अगर पूरे प्रदेश के हिसाब से देखा जाए तो स्थिति कंट्रोल के बाहर नहीं है, इसके लिए लोग धन्यवाद के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन (Home Isolation) में रहे लोगों को खाना उपलब्ध करवाने के लिए एसडीएम को आदेश दिए हैं कि बीडीओ (BDO) को इसी कार्य में लगाया जाए। उनके जिम्मे ऐसे लोगों को खाना मुहैया करवाने की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि अगर किसी को किसी भी प्रकार की दिक्कत आती है तो वह 1077 पर कॉल कर सकता है। होम डिलीवरी व ई-कॉमर्स द्वारा सभी वस्तुओं व सेवाओं की ऑनलाइन डिलीवरी जैसे फलीपकार्ट, एमाजोन, मनतरा, ब्ल्यूडार्ट व डीटीडीसी जैसे रिटेलर्स के साथ-साथ खाद्य और किराना वस्तुओं के खुदरा विक्रेताओं को भी होम डिलीवरी प्रदान करने की अनुमति दी गई है।

 

 

कांगड़ा में ऑक्सीजन की नहीं कमी

ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी को लेकर वायरल कुछ वीडियो को लेकर उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति नहीं है। जो वीडियो वायरल हुआ था उसमें वीडियो बनाने वाला व्यक्ति दो दिन से ऑक्सीजन ना मिलने की बात कर रहा है। अगर किसी व्यक्ति को दो दिन ऑक्सीजन ना मिले तो उसका बचना मुश्किल है। वह व्यक्ति को वीडियो (Video) बना रहा था। उन्होंने कहा कि देखने में आया है, जिनका ऑक्सीजन लेबल 99 फीसदी वह भी ऑक्सीजन की मांग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत नहीं तो ऑक्सीजन दी जाए तो वह हानिकारक होती है। उन्होंने कहा कि लैब बढ़ाने की कोशिश की जा रही है, ताकि सैंपल रिपोर्ट में देरी ना हो। आने वाले समय में संस्थागत क्वारंटाइन भी शुरू किया जा सकता है। अभी डाढ़ में संस्थागत क्वारंटाइन (Institutional quarantine) शुरू है। अगर डिमांड बढ़ी तो संस्थागत क्वारंटाइन सुविधा भी शुरू करने पर विचार होगा। उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में 45 प्लस के लोगों के लिए वैक्सीनेशन (Vaccination) का पूरा स्टाक है। साथ ही 15 मई के बाद 18 प्लस के लिए भी वैक्सीनेशन शुरू होने की संभावना है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है