×

#Corona का नया स्ट्रेन कितना जानलेवा और खतरनाक, क्या बोले जयराम- जानिए

नए स्ट्रेन में खांसी और बुखार जैसे कोई लक्षण नहीं, रहें सतर्क

#Corona का नया स्ट्रेन कितना जानलेवा और खतरनाक, क्या बोले जयराम- जानिए

- Advertisement -

कांगड़ा। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने प्रदेश के लोगों से कोरोना (Corona) महामारी के प्रति और अधिक सतर्क रहने का आह्वान किया है, क्योंकि इस बार यह वायरस अधिक प्रभावशाली और खतरनाक बनकर लौटा है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों (Health Experts) ने कोरोना के नए स्ट्रेन का अध्ययन करने के उपरांत पाया है कि इसमें खांसी और बुखार जैसे कोई लक्षण सामने नहीं आ रहे हैं और मरीजों को जोड़ों में दर्द, शारीरिक कमजोरी, कम भूख लगने और कोविड-19 (Covid-19) निमोनिया जैसी समस्याएं आ रही हैं। सीएम आज कांगड़ा जिले के डॉ. राजेंद्र प्रसाद चिकित्सा महाविद्यालय टांडा (Dr. Rajendra Prasad Medical College Tanda) के परिसर में प्रदेश में कोविड महामारी की स्थिति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।


यह भी पढ़ें: कोविड-19 के UK strain खोजने को होगा अब कुछ ऐसा, स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश सरकार को भेजा प्रस्ताव

 

 

होम क्वारंटाइन में रखे लोगों पर कड़ी निगरानी को कहा

उन्होंने कहा कि पूर्व में सामने आए मामलों के मुकाबले इस बार मरीजों का स्वास्थ्य बिगड़ने में कम समय लग रहा है और कभी-कभी कोई भी लक्षण सामने नहीं आ रहा है। इसलिए स्वयं, परिवार और समाज को खतरे में डालने से बेहतर है कि हम और अधिक सतर्क रहें। जयराम ठाकुर ने चिकित्सा अधिकारियों और स्थानीय प्रशासन को उन लोगों पर कड़ी निगरानी रखने को कहा जो होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में रखे गए हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों की निगरानी करने और इस घातक महामारी के विरूद्ध लड़ने तथा एहतियाती उपायों के प्रति समाज को जागरूक करने के लिए स्थानीय पंचायती राज प्रतिनिधियों को शामिल किया जाना चाहिए। सार्वजनिक स्थानों में लोगों को बिना मास्क के घुमने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए और दुकानदारों को बिना मास्क (Mask) के लोगों को अपनी दुकानों में आने की अनुमति नहीं देनी चाहिए। इस महामारी को दूर रखने के लिए उचित स्वच्छता संबंधी आदतें अपनाना जरूरी है और परस्पर दूरी के नियमों का पालन किए बिना हम कोरोना को नहीं हरा सकते हैं। स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के सभी सुरक्षा मंत्रों को अपना कर हम सुरक्षित रह सकते हैं जिससे हमें आर्थिक गतिविधियों को सुचारू रखने में सहायता मिलेगी और देश और प्रदेश की विकास, उन्नति और आर्थिकी प्रभावित नहीं होगी।

यह भी पढ़ें: Himachal में आज अब तक #Corona के 39 केस और 125 हुए ठीक

लापरवाही के कारण प्रतिदिन आ रहे मामले

जयराम ठाकुर ने कारोना वायरस का सामुदायिक संक्रमण रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग को कोरोना वायरस (Coronavirus) संबंधी परीक्षणों को बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का नया रूप हमारे नासाग्रसनी (नेसोफिरेंजियल) भाग में नहीं रहता है और यह सीधे तौर पर फेफड़ों को प्रभावित कर रहा है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग लोगों को इस कठिन समय में प्रोत्साहित करें, ताकि वे इस घातक महामारी से कम से कम प्रभावित हों। उन्होंने लोगों को सतर्क रहने और जहां तक संभव हो भीड़-भाड़ वाले स्थानों से बचने और सार्वजनिक स्थानों व परिवहन के उपयोग के दौरान हर समय मास्क पहनने का आग्रह किया। बार-बार हाथ धोने की आदत को अपनाना चाहिए, क्योंकि यह बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित करता है। उन्होंने कहा कि लोगों की लापरवाही के कारण प्रतिदिन बड़ी संख्या में नए मामले सामने आ रहे हैं, जो समाज को खतरे में डाल रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Corona के मामलों में मामूली गिरावट, डॉ हर्षवर्धन ने ली दूसरी खुराक

एक्स-रे की रिपोर्ट में आ रहे निमोनिया के मामूली लक्षण

इससे पूर्व, कांगड़ा (Kangra) जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. गुरदर्शन गुप्ता (Chief Medical Officer Dr. Gurudarshan Gupta) ने कहा कि कोरोना के नए स्ट्रेन के मरीजों में बुखार के कोई भी लक्षण सामने नहीं आ रहे हैं, लेकिन एक्स-रे (X-ray) की रिपोर्ट में निमोनिया के मामूली लक्षण सामने आ रहे हैं। इसका अर्थ है कि इस वायरस का सीधा प्रभाव फेफड़ों पर पड़ रहा है, जिससे वायरल निमोनिया के कारण मरीजों को सांस संबंधी गंभीर दिक्कतों का सामना कर पड़ रहा है। इससे यह साबित होता है कि कोरोना का नया स्ट्रेन (New Strain) अधिक जानलेवा और घातक है। उन्होंने कहा कि कोरोना की नई लहर पहले से अधिक जानलेवा है और हमें इस महामारी को हराने के लिए उचित स्वास्थ्य संबंधी आदतों को अपनाना चाहिए। डीसी चंबा डीसी राणा (DC Rana) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conferencing) के माध्यम से जिला चंबा में कोविड की स्थिति की जानकारी दी। उन्होंने लोगों से स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन द्वारा जारी स्वास्थ्य संबंधी दिशा-निर्देशों को अपने परिवार और जान-पहचान वाले लोगों के बीच प्रचारित करने का आह्वान किया। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. विपिन सिंह परमार, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी, वन मंत्री राकेश पठानिया, डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति, एसपी विमुक्त रंजन, टांडा चिकित्सा महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ. भानू अवस्थी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है